निलंबित BEO के कार्यभार ग्रहण करते ही फिर आंदोलन की राह पर कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली – सौंपा ज्ञापन

निलंबित BEO के कार्यभार ग्रहण करते ही फिर आंदोलन की राह पर कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली – ज्ञापन में उग्र आंदोलन की चेतावनी –

सरायपाली : – कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली के द्वारा दिनांक 08/12/2021 को कलेक्टर महासमुंद के नाम से अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) सरायपाली को ज्ञापन सौंपा । जिसमें कहा गया है कि विकासखंड सरायपाली के सभी प्राचार्य व शिक्षक संवर्ग विकास खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में हो रहे लगातार घटनाक्रम से आहत हैं एवं जिला कार्यालय द्वारा समस्या का समाधान करने की बजाय लगातार उलझा कर शिक्षकों की भावनाओं के साथ खेला जा रहा है ।

निलंबित BEO के कार्यभार ग्रहण करते ही फिर आंदोलन की राह पर कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली - सौंपा ज्ञापन

मामला सुलझने की बजाय और उलझ गया –

अब सरायपाली में एक की जगह दो BEO कार्यभार ग्रहण कर चुके हैं ।

एफ.ए.नंद (मूल पद प्रधान पाठक) को विकास खंड शिक्षा अधिकारी के पद पर पदांकित करने संबंधी आदेश को निरस्त करने के संबंध में विकासखंड के समस्त शिक्षक आंदोलनरत थे । दिनांक 06/08/2021 को विधायक सरायपाली की उपस्थिति में संगठन का प्रतिनिधिमंडल कलेक्टर महासमुंद के साथ चर्चा हेतु उपस्थित हुआ था। सार्थक चर्चा एवं बच्चों के हित को देखते हुए संगठन ने तत्काल आंदोलन को स्थगित कर दिया। चर्चा के दौरान एक माह पश्चात कलेक्टर महासमुंद द्वारा इसका उचित समाधान कर एफ.ए.नंद (मूल पद प्रधान पाठक) को विकास खंड शिक्षा अधिकारी के पद से हटाकर किसी पात्र योग्यताधारी BEO के पदांकन का आश्वासन दिया था । नियत एक माह का समय पूर्ण हो चुका है, किंतु उसके बाद भी श्री नंद को विकास खंड शिक्षा अधिकारी के पद से नहीं हटाया गया। वरन् उन्हें आहरण अधिकार भी सौंप दिया गया है। इस संबंध में कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली के द्वारा दिनांक 06/12/2021 को पुनः ज्ञापन दिया जा चुका है । अभी इसका समाधान हुआ नहीं था कि एक नया मामला फिर आ गया ।

This image has an empty alt attribute; its file name is IMG_20210804_110758-969x1024.jpg

आई पी कश्यप ( निलंबित BEO) पूर्व विकास खंड शिक्षा अधिकारी सरायपाली के विरुद्ध, भ्रष्टाचार एवं शिक्षकों को प्रताड़ित करने को लेकर कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली के द्वारा शिकायत की गई थी एवं उन्हें विकास खंड शिक्षा अधिकारी सरायपाली के पद से हटाने की मांग की गई थी । जिसमें जांच उपरांत राज्य शासन द्वारा उन्हें निलंबित कर दिया । किंतु दिनांक 07/12/2021 को अचानक कार्यालय में पहुंचकर उनके द्वारा बिना किसी राज्य शासन के आदेश के एकतरफा विकास खंड शिक्षा अधिकारी सरायपाली का पदभार पुनः ग्रहण कर लिया गया है। शासन प्रशासन की इस प्रकार के कृत्य से विकासखंड सरायपाली के समस्त प्राचार्य, शिक्षक संवर्ग बहुत आक्रोशित हैं।

क्या है मामला –

02 अगस्त को कलेक्टर महासमुंद के द्वारा आई पी कश्यप पूर्व विकास खंड शिक्षा अधिकारी सरायपाली को हटाकर एफ.ए.नंद (मूल पद प्रधान पाठक) को विकास खंड शिक्षा अधिकारी सरायपाली का सम्पूर्ण प्रभार सौंपा गया । वहीं 03 अगस्त 2021 को आई पी कश्यप को विकास खंड शिक्षा अधिकारी सरायपाली के सम्पूर्ण प्रभार से कार्यमुक्त करते हुए कलेक्टर महासमुंद के द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी महासमुंद में सलग्न कर दिया गया और आज तक सरायपाली वापस नहीं किया गया है ।

निलंबित BEO के कार्यभार ग्रहण करते ही फिर आंदोलन की राह पर कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली - सौंपा ज्ञापन

इसी बीच 04 सितम्बर 2021 को राज्य शासन के आदेश के द्वारा आई पी कश्यप को निलम्बित कर उनका मुख्यालय जिला शिक्षा अधिकारी महासमुंद कर दिया गया । अब प्रश्न यह उठता है कि जब उनका मुख्यालय जब कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी महासमुंद है तो उन्होने सरायपाली में किस आधार पर कार्यभार ग्रहण किया ।

निलंबित BEO के कार्यभार ग्रहण करते ही फिर आंदोलन की राह पर कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली - सौंपा ज्ञापन
निलंबित BEO के कार्यभार ग्रहण करते ही फिर आंदोलन की राह पर कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली - सौंपा ज्ञापन
एक को निलम्बित किया गया और दुसरे को प्रशासनिक कारणो से हटाया गया है  ।  वहीं दोनो सरायपाली के BEO के पद पर अपना अपना दावा ठोंक रहे हैं और तीसरी तरफ शिक्षक संगठन इन दोनो को हटाने पर अडा हुआ है  । जिला प्रशासन कब तक मामला को सुलझाता है यह देखना दिलचस्प होगा  । 

अब आगे क्या –

कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली द्वारा आई .पी. कश्यप एवं एफ.ए.नंद दोनों को हटाने हेतु ज्ञापन देकर आंदोलन की राह पर बड चुका है उनके ज्ञापन के अनुसार दिनांक 11-12 -2021 तक दोनों को विकास खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय से हटाकर अन्यत्र स्थानांतरित नहीं किया गया ,तो विकासखण्ड के समस्त प्राचार्य व शिक्षक संवर्ग दिनांक 13-12- 2021 से अनिश्चितकालीन सामूहिक अवकाश पर चले जाएंगे। प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन सरायपाली के सयोजक चंद्रहास पात्रो ने कहा है कि नियत समय पर समाधान नहीं होने पर उग्र आंदोलन रैली,धरना हेतु बाध्य होंगे जिसकी संपूर्ण जवाबदारी शासन प्रशासन की होगी।

ज्ञापन देते समय सरायपाली के 8 संगठन के पदाधिकारियों के साथ करीब 150 शिक्षक एवं शिक्षिकाये सम्मिलित थे। छ ग पेंशनधारी कन्याण संघ के अध्यक्ष सत्य प्रकाश सतपथी , छ ग शिक्षक संघ अध्यक्ष किशोर रथ एवम् छ ग तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ अध्यक्ष भोजराज पटेल ने अपने संबोधन से सभी शिक्षकों को मार्गदर्शन के साथ उत्साहित किया।

Follow – Edudepart

Leave a Reply