Join Our Community

कक्षा 1 से 8 तक आकलन के क्रियान्वयन के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश

कक्षा 1 से 8 तक आकलन के क्रियान्वयन के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश

👇

PDF DOWNLOAD

कोविड महामारी के दुष्प्रभाव से शिक्षा जगत अछूता नहीं है। कोविड महामारी के समय स्कूल बच्चों के लिए नहीं खुले। इसके बावजूद राज्य शासन ने बच्चों की शिक्षा की निरंतरता बनाए रखी। सीखने-सिखाने के वैकल्पिक और परिवेश अनुरूप तरीके अपनाए गए जैसे पढ़ई तुंहर दुआर, पढ़ई तुहर पारा, बुल्टू के बोल, लाउड स्पीकर, ऑनलाइन कक्षाएं आदि। इन प्रयासों ने शिक्षकों और समुदाय को बच्चों की शिक्षा से जोड़े रखा और अध्यापन कार्य की निरंतरता बनी रही ।

इन तमाम प्रयासों से बच्चों के सीखने पर क्या प्रभाव पड़ा, उन्होंने कितना सीखा और सीखने में कहाँ कठिनाई है यह जानने के लिए बेसलाइन आकलन किया जा रहा हैं। बेसलाइन आकलन से यह सुनिश्चित हो पाएगा कि बच्चे ने अब तक कितना सीखा और वर्तमान में उसका शैक्षिक स्तर किस कक्षा के अनुरूप है। इससे कक्षा अध्यापन करने में शिक्षकों को सहायता मिलेगी।

आकलन के क्रियान्वयन के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश

  • इस शिक्षा सत्र में बच्चों के सीखने सिखाने की प्रक्रिया का समुचित रूप आकलन किया जाना है।
  • सत्र 2021-22 कक्षावार, विषयवार 03 आकलन (बेसलाइन मिडलाइन, एंडलाइन) एवं 05 मूल्यांकन किया जाना है।
  • आकलन उपरांत बच्चों की उत्तर पुस्तिकाओं का संधारण विद्यालय स्तर पर किया जाएगा। जिसका राज्य स्तरीय अधिकारियों के द्वारा समय-समय पर अवलोकन / परीक्षण किया जावेगा।
  • संबंधित निर्देश के छायाप्रति का पीडीएफ डाउनलोड यहां से कर सकते हैं

👇

PDF DOWNLOAD

सत्र 2021-22 में कक्षावार विषयवार 03 आकलन (बेसलाइन, मिडलाइन, एंडलाइन) एवं 05 इकाई मूल्यांकन किया जाना है। आकलन उपरांत बच्चों की उत्तर पुस्तिकाओं का संधारण विद्यालय स्तर पर किया जाएगा। जिसका राज्य स्तरीय अधिकारियों के द्वारा समय-समय पर अवलोकन/ परीक्षण किया जायेगा।

इन्हें भी देखें:

सत्र 2021-22 में कक्षा 1 से 8 तक आकलन प्रक्रिया की पूरी जानकारी

कक्षा 1 से 8 तक आकलन हेतु प्रश्न पत्र का निर्माण

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.