Youth and Eco Club यूथ व ईको क्लब मद 2023-24

10,960

Youth and Eco Club : समग्र शिक्षा द्वारा सत्र 2023-24 की वार्षिक कार्य योजना एवं बजट के अतंर्गत राज्य के पूर्व माध्यमिक शालाओं हेतु राशि रू. 3000हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी शालाओं हेतु राशि रू.5000 की राशि जारी कर व्यय के लिये प्रशासकीय एवं वित्तीय स्वीकृति प्रदान गयी है।

Youth and Eco Club

यूथ व ईको क्लब मद [2023-24]

Youth and Eco Club
Youth and Eco Club

यूथ व ईको क्लब प्रशासकीय एवं वित्तीय स्वीकृति व निर्देश

वित्तीय स्वीकृति (कक्षा 6-8)Open
वित्तीय स्वीकृति (कक्षा 9-12)Open
उपयोग निर्देशOpen

यूथ व ईको क्लब राशि विवरण-

  • पूर्व माध्यमिक- ₹ 3000
  • हाई/हायर सेकेण्डरी – ₹ 5000

यूथ व ईको क्लब Scheme Component-

  • [M]Quality/LEP/Project Innovation

शालाओं में युवा क्लब का गठन हेतु दिशा निर्देश-

उच्च प्राथमिक से लेकर हायर सेकन्डरी स्तर तक अध्ययन कर रहे बच्चों को शाला अवधि के अतिरिक्त मिलने वाले खाली समय में कुछ रचनात्मक एवं समाजोपयोगी कार्यों में जोड़े रखने, नेतृत्व कौशलों के विकास के लिए, अपने व्यक्तित्व के विकास के लिए, सामाजिक, वैयक्तिक, शैक्षिक कौशलों के विकास के लिए Youth and Eco Club के माध्यम से कार्यों को आगे बढाया जा सकता है। इन युवा क्लब के माध्यम से हम विद्यार्थियों के संवाद कौशल, अपने स्व-एस्टीम एवं आत्मविश्वास को बढ़ावा देने, भीतर छुपे टेलेंट या प्रतिभा की पहचान कर उन्हें बढ़ावा देने के साथ साथ इस कार्यक्रम से बच्चों में विभिन्न गुणों जैसे अनुशासन के विकास के साथ-साथ बच्चों के सर्वांगीण विकास में भी सहयोग मिल जाता है।

युवा क्लब के गठन का उद्देश्य –

शालाओं में Youth and Eco Club का गठन मुख्य रूप से निम्नलिखित उद्देश्यों को लेकर किया जाएगा-

  • बच्चों में सृजनात्मक कौशलों एवं कल्पनाशीलता के विकास के लिए
  • युवावस्था लेने हेतु कुछ कार्य को लेते हुए उसे अच्छे से पूरा करने की जिम्मेदारियां विद्यार्थियों,
  • शिक्षकों एवं समुदाय को आपस में मिलकर कार्य करने एक प्लेटफोर्म उपलब्ध करवाने
  • शाला में उपलब्ध संसाधनों का बेहतर उपयोग सुनिश्चित किए जाने हेतु
  • टीम भावना के साथ आपस में मिलकर काम करने की आदत का विकास
  • इस वर्ष प्राप्त स्वीकृति के अनुसार उच्च प्राथमिक स्तर पर युवा एवं ईको क्लब संचालन हेतु प्रति शासकीय शाला रूपए 3000/- एवं हाई-हायर सेकन्डरी स्तर पर इस क्लब के संचालन हेतु प्रति शाला रूपए 5000/- का प्रावधान किया गया है.
  • स्कूलों में क्लब की नियमित गतिविधियां प्रारंभ होने पर इस क्लब के लिए उपलब्ध बजट शालाओं को आबंटित किया जा रहा है|
  • सभी शालाओं में तत्काल एक सप्ताह के भीतर चुनाव के माध्यम से युवा एवं इको क्लब का गठन करना है |
  • स्कूलों में युवा क्लब के माध्यम से पहली गतिविधि के रूप में ग्रीन स्कूल का क्रियान्वयन वर्षा ऋतू में प्रारंभ करना है |
  • चर्चा पत्र जुलाई-2023 के अंक में भी ग्रीन स्कूल के बारे में बताया गया है |

युवा क्लब के गठन की प्रक्रिया –

विभिन्न कक्षाओं से आप विद्यार्थियों का चुनाव कर सकते हैं। सभी सहमत हों तो Youth and Eco Club के लिए चुनाव भी आयोजित किया जा सकता है। प्रत्येक पद के लिए जिम्मेदारियां निर्धारित की जाएँगी। इन जिम्मेदारियों का निर्धारण शाला स्तर पर किया जाएगा।

प्रमुख रूप से विभिन्न पदों की जिम्मेदारियां इस प्रकार होंगी-

Download

प्रधानमंत्री:-

  • युवा क्लब के संचालन की पूरी जिम्मेदारी का निर्वहन करना
  • युवा क्लब के प्रभारी शिक्षक एवं विभिन्न मंत्रियों के साथ समन्वय कर युवा क्लब के काम को आगे बढ़ाना

शिक्षा मंत्री :-

  • शाला में सीखने-सिखाने के वातावरण बनाने हेतु आवश्यक सहयोग देना
  • शाला में नियमित कक्षाओं का आयोजन करवाना एवं नहीं होने पर शाला प्रबन्धन समिति को सूचित करना
  • बच्चों को शाला समय के अतिरिक्त सीखने हेतु आवश्यक माहौल एवं व्यवस्थाएं करना

वित्त मंत्री:-

  • शाला में युवा क्लब के गठन के लिए प्राप्त बजट का प्रभारी शिक्षक के साथ उपयोग हेतु व्यवस्था
  • शाला के युवा क्लब के खाते में अधिक से अधिक बजट लाने हेतु विभिन्न स्थानीय व्यवस्थाएं • युवा क्लब के पास उपलब्ध बजट का क्लब के सदस्यों के सही उपयोग हेतु बेहतर व्यवस्थाएं

खेलमंत्री:-

  • युवाओं के लिए शाला एवं बाहर खेल व्यवस्थाएं करना एवं खेलने के अवसर प्रदान करना
  • स्थानीय स्तर पर कुछ खेलों पर फोकस कर उसमें युवाओं को आगे बढ़ने प्रोत्साहित करना
  • युवाओं को मनोरंजन के लिए विभिन्न अवसर एवं संसाधन प्रदान करना

क़ानून एवं रक्षा मंत्री:-

  • शाला में नियमित अनुशासन बनाए रखने की दिशा में कार्य करना एवं स्व-अनुशासन हेतु प्रेरित करना
  • शाला में शाला सुरक्षा एवं आपदा प्रबन्धन पर ध्यान देते हुए सुरक्षा की व्यवस्था
  • विभिन्न गतिविधियों के संचालन एवं बच्चों की नियमित उपस्थिति हेतु नियम बनाकर पालन करना

स्वास्थ्य एवं स्वच्छता मंत्री:-

  • बच्चों के नियमित स्वास्थ्य पर ध्यान देते हुए उन्हें नियमित आने पर जोर देना • शाला परिसर के आसपास एवं व्यक्तिगत स्तर पर स्वच्छता बनाए सखने हेतु कार्य करना
  • मध्याह्न भोजन, पेयजल, शौचालय एवं कचरा प्रबन्धन हेतु समुचित व्यवस्थाएं

कृषि एवं उद्योग मंत्री:-

  • बच्चों में कृषि एवं अन्य मेहनत वाले कार्यों के प्रति रूचि विकसित करते हुए आसपास हरियाली लाना
  • कृषि एवं स्थानीय संसाधनों के बेहतर उपयोग एवं उनसे बेहतर आउटपुट के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं
  • अपने साथियों को विभिन्न व्यवसायों के बारे में जानकारी देना एवं उनमें रूचि विकसित करना

Youth and Eco Club के गतिविधियों के रिकार्डिंग रखने हेतु एक पंजी संधारित की जाएगी जिसमें गठन की प्रक्रिया एवं चयनित पदाधिकारियों का विवरण नियमित रूप से दर्ज किया जाएगा। एक बार चुनाव के बाद पूरे सत्र भर युवा क्लब के कार्यों के संचालन की पूरी जिम्मेदारी युवा क्लब के पदाधिकारियों की होगी। इनका कार्यकाल एक सत्र का होगा। अगले सत्र के लिए पुनः चुनाव आदि कर पदाधिकारियों का चयन किया जाना होगा।

शाला के सभी विद्यार्थी इस Youth and Eco Club के सदस्य होंगे। यदि Youth and Eco Club चाहें तो स्थानीय निवासी युवा जो किसी शाला में न पढ़ते हों या किसी अन्य निजी शाला में जाते हों उन्हें भी आप अपने युवा क्लब में शामिल कर सकते हैंयुवा क्लब में सदस्य के रूप में शामिल होने के लिए कुछ न्यूनतम सदस्य शुल्क आदि भी रखा जा सकता है।

युवा क्लब के माध्यम से अपेक्षित बदलाव-

Youth and Eco Club के माध्यम से यह अपेक्षा की जाती है कि हमारे युवाओं में कुछ आवश्यक बदलाव लाए जाएं। उनके सोचने, समझने एवं व्यवहार के तौर-तरीकों में अपेक्षित परिवर्तन दिखाई देना शुरू हो। शालाओं में युवा क्लब के गठन एवं क्रियान्वयन के पश्चात हमें कम से कम इन क्षेत्रों में हमारे विद्यार्थियों में बदलाव नियमित रूप से देखना शुरू कर देना चाहिए

उपयोगिता प्रमाण पत्र-

उपयोगिता प्रमाण पत्रOpen

Get real time updates directly on you device, subscribe now.