SCHOOL CALANDER | MDM CALCULATOR | SALARY CHART

2008 Setup [छात्र-शिक्षक अनुपात]

14,416

2008 Setup : शाला में 2008 सेटअप अनुसार छात्र-शिक्षक अनुपात कितना होता है जानिए

सेटअप अनुसार छात्र-शिक्षक अनुपात

[2008 Setup]

2008 Setup
2008 Setup

cgschool.in पोर्टल में अपलोड किए गए सेटअप के परिक्षण के सम्बन्ध में लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा दिनांक 2/05/2022 एवं दिनांक 12/05/2022 आदेश जारी किया गया था | उक्त पत्रों से यह भ्रांति फैल रही है कि शिक्षा विभाग के द्वारा शासकीय शालाओं के लिये नवीन सेटअप निर्मित किया जा रहा है जबकि वस्तुस्थिति यह है, कि वित्त विभाग द्वारा पूर्व में स्वीकृत सेटअप के अनुरूप ही सेटअप निर्धारित रहेगा। आवश्यक भ्रम ना हो इसे ध्यान में रखते हुये संदर्भित दोनो पत्रों को एतद् द्वारा निरस्त किया जाता है।

शिक्षक सेटअप-2022Open
शिक्षक सेटअप-2008Open

विद्यालय पद रचनाक्रम हेतु मापदंड :-

आदेश दिनांक 31.03.2008 प्राथमिक, पूर्व माध्यमिक, हाईस्कूल तथा हायर सेकेण्डरी स्कूलों में पद सेटअप निम्नानुसार होगा:-

प्राथमिक विद्यालय में सेटअप की गणना हेतु मापदंड :-

यह रचनाकम कक्षा 1 से 5 तक के लिए है । प्रत्येक 40 विद्यार्थियों के मान से शिक्षक की व्यवस्था की गई है । अतः यह न्यूनतम 80 विद्यार्थियों के लिये है। 80 के बाद की वृद्धि पर एक अतिरिक्त शिक्षक की प्रात्रता होगी। प्राथमिक शालाओं में 50 प्रतिशत शिक्षक कला संकाय और 50 प्रतिशत विज्ञान संकाय के होंगे ।

प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक सेटअप :-

दर्ज संख्या शिक्षक संख्या
(HM+सहायक शिक्षक )
40 तक01+01
41 से 80 तक01+02
81 से 120 तक01+03
121 से 160 तक01+04
161 से 200 तक01+05

पूर्व माध्यमिक विद्यालय में सेटअप की गणना हेतु मापदंड –

पूर्व माध्यमिक शालाओं में 3 कक्षाऐं होती है । एक कक्षा में 35 छात्र होते हैं 35 के बाद दर्ज संख्या में वृद्धि होने पर एक शिक्षक की पात्रता होगी। इसी तरह क्रम आगे चलता रहेगा । एक शिक्षक अंग्रेजी, हिन्दी/संस्कृत का एक, गणित का एक, विज्ञान का एक तथा कला का एक शिक्षक प्रत्येक शाला में होगा ।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय में शिक्षक सेटअप :-

दर्ज संख्या शिक्षक संख्या (HM+शिक्षक)विषय का क्रम
140 तक01+041HM+1अंग्रेजी+1गणित+1विज्ञान+1कला/हिंदी
141 से 175 तक01+051HM+2अंग्रेजी+1गणित+1विज्ञान+1कला/हिंदी
176 से 210 तक01+061HM+2अंग्रेजी+2गणित+1विज्ञान+1कला/हिंदी
211 से 245 तक01+071HM+2अंग्रेजी+2गणित+2विज्ञान+1कला/हिंदी
246 से 290 तक01+081HM+2अंग्रेजी+2गणित+2विज्ञान+2कला/हिंदी
291 से 335 तक01+091HM+3अंग्रेजी+2गणित+2विज्ञान+2कला/हिंदी

हाई स्कूल में सेटअप की गणना हेतु मापदंड –

व्याख्याता हाई स्कूलों में निम्न विषयानुसार होंगे : (1) हिन्दी (2) अंग्रेजी (3) संस्कृत (4) गणित (5) जीव विज्ञान (6) कला संकाय( इतिहास/राजनीति शास्त्र या अर्थशास्त्र/भूगोल) । 35 विद्यार्थियों की एक कक्षा होगी तथा 35 विद्यार्थियों का एक वर्ग भी होगा । प्रथम 35 विद्यार्थियों के पश्चात् अधिकतम 10 छात्रों की दर्ज संख्या होने पर एक अतिरिक्त शिक्षक दिया जायेगा । अतिरिक्त वृद्धि कमशः अंग्रेजी, गणित, जीव विज्ञान, हिन्दी, संस्कृत एवं कला संकाय के शिक्षकों की होगी ।

हाई स्कूल में शिक्षक सेटअप :-

दर्ज संख्या शिक्षक संख्या
प्राचार्य+व्याख्याता+विज्ञान सहायक
विषय का क्रम
210 तक01+06+011प्राचार्य+1हिन्दी+1अंग्रेजी+1संस्कृत+1गणित+1जीवविज्ञान+1कला+1विज्ञान सहायक
211 से 245 तक01+07+011प्राचार्य+2हिन्दी+1अंग्रेजी+1संस्कृत+1गणित+1जीवविज्ञान+1कला+1विज्ञान सहायक
246 से 280 तक01+08+011प्राचार्य+2हिन्दी+2अंग्रेजी+1संस्कृत+1गणित+1जीवविज्ञान+1कला+1विज्ञान सहायक
281 से 315 तक01+09+011प्राचार्य+2हिन्दी+2अंग्रेजी+2संस्कृत+1गणित+1जीवविज्ञान+1कला+1विज्ञान सहायक
316 से 350 तक01+10+011प्राचार्य+2हिन्दी+2अंग्रेजी+2संस्कृत+2गणित+1जीवविज्ञान+1कला+1विज्ञान सहायक
351 से 385 तक01+11+011प्राचार्य+2हिन्दी+2अंग्रेजी+2संस्कृत+2गणित+2जीवविज्ञान+1कला+1विज्ञान सहायक

हायर सेकेंडरी विद्यालय में सेटअप की गणना हेतु मापदंड –

हायर सेकेण्डरी सालों में हिन्दी, अंग्रेजी संस्कृत, गणित, जीव विज्ञान, भौतिक शास्त्र, रसायन शास्त्र इतिहास/राजनीति शास्त्र, अर्थ शास्त्र/भूगोल के एक-एक तथा वाणिज्य के दो व्याख्याता के होंगे। जिस विषय/संकाय के वर्ग बनेंगे उस विषय के व्याख्याता देय होंगे । 35 विद्यार्थियों की एक कक्षा/वर्ग होगा इससे अधिक होने पर (अधिकतम10 होने पर) एक अतिरिक्त विषय के व्याख्याता देय होगा। यह स्वीकृति वित्त विभाग के द्वारा दिनांक 08.05.2008 दी गई है ।

हायर सेकेंडरी स्कूल में शिक्षक सेटअप :-

दर्ज संख्या शिक्षक संख्या
प्राचार्य+व्याख्याता+विज्ञान सहायक
विषय का क्रम
210 तक01+11+03+01+011प्राचार्य+1हिन्दी+1अंग्रेजी+1संस्कृत+1गणित+1जीव विज्ञान+1भौतिकी+1रसायन+1इतिहास/राजनीति शास्त्र+1भूगोल/ अर्थशास्त्र+2वाणिज्य+3विज्ञान सहायक+1व्यायाम शिक्षक+1ग्रथंपाल शिक्षक
211 से 245 तक01+12+03+01+011प्राचार्य+2हिन्दी+1अंग्रेजी+1संस्कृत+1गणित+1जीव विज्ञान+1भौतिकी+1रसायन+1इतिहास/राजनीति शास्त्र+1भूगोल/ अर्थशास्त्र+2वाणिज्य+3विज्ञान सहायक+1व्यायाम शिक्षक+1ग्रथंपाल शिक्षक
246 से 280 तक01+13+03+01+011प्राचार्य+2हिन्दी+2अंग्रेजी+1संस्कृत+1गणित+1जीव विज्ञान+1भौतिकी+1रसायन+1इतिहास/राजनीति शास्त्र+1भूगोल/ अर्थशास्त्र+2वाणिज्य+3विज्ञान सहायक+1व्यायाम शिक्षक+1ग्रथंपाल शिक्षक
281 से 315 तक01+14+03+01+011प्राचार्य+2हिन्दी+2अंग्रेजी+2संस्कृत+1गणित+1जीव विज्ञान+1भौतिकी+1रसायन+1इतिहास/राजनीति शास्त्र+1भूगोल/ अर्थशास्त्र+2वाणिज्य+3विज्ञान सहायक+1व्यायाम शिक्षक+1ग्रथंपाल शिक्षक
316 से 350 तक01+15+03+01+011प्राचार्य+2हिन्दी+2अंग्रेजी+2संस्कृत+2गणित+1जीव विज्ञान+1भौतिकी+1रसायन+1इतिहास/राजनीति शास्त्र+1भूगोल/ अर्थशास्त्र+2वाणिज्य+3विज्ञान सहायक+1व्यायाम शिक्षक+1ग्रथंपाल शिक्षक
351 से 385 तक01+16+03+01+011प्राचार्य+2हिन्दी+2अंग्रेजी+2संस्कृत+2गणित+2जीव विज्ञान+1भौतिकी+1रसायन+1इतिहास/राजनीति शास्त्र+1भूगोल/ अर्थशास्त्र+2वाणिज्य+3विज्ञान सहायक+1व्यायाम शिक्षक+1ग्रथंपाल शिक्षक

संविलियन के समय स्कूल शिक्षा विभाग ने अपने संविलियन निर्देश में क्लीयर किया था कि अतिशेष संबंधी समस्त कार्य स्कूल शिक्षा विभाग करेगा और उसी के क्रम में यह लिस्ट cgschool.in में अपलोड है…

शाला में स्वीकृत, कार्यरत व रिक्त पद की जानकारी

[Sanctioned Posts In The School]

👉cgschool.in के शिक्षक के कार्य सेक्शन में स्कूलों के सेटअप संबंधी जानकारी देखें |

👉वर्तमान में अपने शाला में पदस्थ प्रधान पाठक व विषयवार शिक्षकों की संख्या जाने|

👉दर्ज संख्या के अनुपात में शाला में अतिशेष शिक्षकों की संख्या देखें|

👉साथ ही शिक्षक संबंधी विवरण में दे अपने प्रोफाइल को कुछ और अपडेट |

👉 cgschool.in

2008 Setup [छात्र-शिक्षक अनुपात]

👉 शासन द्वारा समय समय पर शालाओं में शिक्षकों की नियुक्ति पश्चात छात्र संख्या के आधार पर शिक्षकों का समायोजन अन्य शालाओं में किया जाता रहा है जहाँ शिक्षकों की कमी है ।

शाला में शिक्षकों के सेटअप संबंधी अपडेट cgschool.in में देखें-

इन्हें भी देखें :-

Get real time updates directly on you device, subscribe now.