गिल्ली डंडा छत्तीसगढ़िया खेल

1,415

छत्तीसगढ़ को खेलों का गढ़ बनाने के पहल में शाला में खेलगढ़िया कार्यक्रम की भूमिका महत्वपूर्ण है। अब शाला में पढ़ाई के साथ-साथ खेलों को भी बहुत महत्व दिया जाना है। हमारे बच्चों के विकास के लिए खेल बहुत आवश्यक है ।

मोबाइल एवं वीडियो गेम्स के आने के बाद शहरों में बच्चे अपना पूरा समय इनमें व्यर्थ गंवाने लगे हैं । अब संचार क्रान्ति के विकास के कारण घर घर में मोबाइल मिलने लगा है और दुनिया अब छोटी होती जा रही है। हमें दुनिया भर की बढ़िया से बढ़िया जानकारी मोबाइल के माध्यम से मिलने लगी है । परन्तु यदि हम समय पर नहीं जागे तो इतनी अच्छी सुविधा का नुकसान भी हमें उठाना पड़ सकता है ।

शाम को या सुबह बच्चे अपने साथियों के साथ खेलते ही हैं, हम उन खेलों को उनकी बेहतरी के लिए करते हुए उनके शारीरिक विकास के साथ साथ चुस्त और तंदुरुस्त रहने एवं खेलों इंडिया जैसे राष्ट्रीय कार्यक्रमों के लिए शुरू से ही ग्रामीण प्रतिभाओं की पहचान कर उन्हें तराशने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं ।

गिल्ली डंडा छत्तीसगढ़िया खेल

गिल्ली डंडा
गिल्ली डंडा

गिल्ली डंडा एक दलीय खेल है प्रत्येक दल में खिलाड़ी संख्या 5 होती है

Download

  • सामग्री :-
    • गिल्ली :- प्रत्येक गिल्ली की लंबाई 10.5 सेंटीमीटर होती है एक स्पर्धा में 5 नग गिल्ली का उपयोग किया जाता है गिल्ली का औसतन वजन 50 से 60 ग्राम होता है।
    • डंडा :- डंडा की लंबाई 80 सेंटीमीटर और वजन 400 ग्राम होता है ।
    • चूना पाउडर, मेजरिंग टेप आदि।
  • मैदान :- 70 मीटर लंबा और 70 मीटर चौड़ा मैदान अनिवार्य है।
  • निर्णायक :- इस खेल में दो निर्णायक होते हैं जिन्हें सुसीरिया कहा जाता है।
  • खेल के सामान्य नियम :- दोनों दलों के बीच टास कराया जाएगा । जीतने वाला दल यह निर्णय लेता है कि पहले कौन बढ़ाएगा । एक दल पहले बढ़ाना पूर्ण करता है । उसके सभी खिलाड़ी बारी-बारी से घेरघेरा के अंदर से गिल्ली मारते हैं , मारने से गिल्ली जिस स्थान पड़ जाती है, वहां निर्णायक चिन्हांकन कर लेता है । किसी भी एक खिलाड़ी की गिल्ली जितनी अधिक दूरी पर जाएगी उस आधार पर अंकों की गणना (निर्धारित खेल मैदान अंक तालिका अनुसार) एवं 5 सदस्यों के अंक जोड़कर उस दल का अंक निर्धारित किया जाएगा।
  • विजेता :- जो दल अधिक अंक अर्जित करेगा वह विजेता कहलाएगा।
  • प्रत्येक दल के खिलाड़ियों की गिल्ली गोले के भीतर रहने पर उसे बढ़ाने के लिए 3 तोला (अवसर) दिया जावेगा गोले से गिल्ली बाहर आने पर निर्णायक उसी स्थान पर चिन्हांकन कर लेगा।

निर्धारित अंक तालिका खेल मैदान अनुसार

क्रमांकखेल मैदान रेखाचित्र अनुसारदूरीअंक
1ई से अधिक55 मीटर से अधिक होने पर05
2द से अधिक ई तक45 मीटर से 55 मीटर तक04
3स से अधिक द तक30 मीटर से 45 मीटर तक03
4ब से अधिक स तक15 मीटर से 30 मीटर तक02
5अ से ब तकघेरघेरा से 15 मीटर तक01
गिल्ली डंडा छत्तीसगढ़िया खेल
गिल्ली डंडा मैदान

अंक समान होने पर प्रक्रिया पुनः की जावेगी

Get real time updates directly on you device, subscribe now.