You are currently viewing DIKSHA पोर्टल पर निष्ठा 2.0 ऑनलाइन प्रशिक्षण में पंजीयन और प्रशिक्षण हेतु दिशा निर्देश जारी

DIKSHA पोर्टल पर निष्ठा 2.0 ऑनलाइन प्रशिक्षण में पंजीयन और प्रशिक्षण हेतु दिशा निर्देश जारी

DIKSHA पोर्टल पर निष्ठा 2.0 ऑनलाइन प्रशिक्षण में पंजीयन और प्रशिक्षण हेतु दिशा निर्देश जारीर प्रशिक्षण हेतु दिशा निर्देश जारी

दीक्षा एप / पोर्टल पर भारत सरकार के निष्ठा सेकेण्डरी 2.0 ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से कक्षा नवी से बारहवीं के समस्त प्राचार्यों एवं शिक्षकों (व्याख्याता, व्याख्याता व्यवसायिक व्याख्याता एल. बी.) के ऑनलाइन प्रशिक्षण हेतु दिशा निर्देश जारी कर दिया गया है

DIKSHA पोर्टल पर निष्ठा 2.0 ऑनलाइन प्रशिक्षण में पंजीयन और प्रशिक्षण हेतु दिशा निर्देश जारी

आदेश व निर्देश का pdf download करने के लिये यहाँ click करें

NISHTHA (National Initiative for school Heads and Teacher’s Holistic Advancement). समग्र शिक्षा के तहत एक समग्र कार्यक्रम है यह शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार का एक प्रमुख कार्यक्रम है। यह बच्चों के समग्र विकास पर बात करता है। यह पाठ्यक्रम, सीखने के परिणामों और शिक्षार्थी केन्द्रित शिक्षण शास्त्र पर केन्द्रित है एवं NEP 2020 में प्रत्येक शिक्षक एवं शाला प्रमुखों के प्रति वर्ष 50 घंटे या उससे अधिक सतत व्यवसायिक विकास माड्यूल में भाग लेने के अवसर प्रदान करता है जिसने नेतृत्व प्रबंधन के साथ-साथ शिक्षण सामग्री और शिक्षण शास्त्र को शामिल किया गया है। इसमें योग्यता आधारित शिक्षण के आधार पर शैक्षणिक योजनाओं को तैयार करने में और लागू करने पर ध्यान दिया गया है। इसका उद्देश्य शिक्षकों और स्कूल प्रमुखों का व्यवसायिक विकास करना है।

निष्ठा कार्यक्रम के चरण –

निष्ठा कार्यक्रम तीन स्तरों में क्रियान्वयन किया गया है। वर्ष 2019-21 में छत्तीसगढ़ में प्राथमिक शिक्षा स्तर (कक्षा 1 से 8) के शिक्षक एवं शाला प्रमुखों ने प्रशिक्षण दिया जा चुका है। निष्ठा 2.0 सेकेण्डरी का कार्यक्रम 01 अगस्त 2021 से प्रारंभ होने जा रहा है (यद्यपि यह कार्यक्रम 01 अगस्त से प्रारंभ हाने जा रहा है, तथापि यह 01 अगस्त से 25 अगस्त 2021 तक नामांकन लिए उपलब्ध रहेगा)। यह 8 चरणों में पूर्ण होगा। इसमें कुल 13 माड्यूल है। 12 माड्यूल सामान्य मुदद्दे से संबंधित है तथा 13 यो माड्यूल विषयों के शिक्षण शास्त्र से संबंधित है। DIKSHA एप / पोर्टल पर भारत सरकार के निष्ठा सेकण्डरी 2.0 ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्तर के (कक्षा 9 वी से 12 वीं तक ) समस्त शिक्षकों व्याख्याता व्याख्याता व्यवसायिक व्याख्याता एल.एल.बी. एवं प्राचार्यों को अनिवार्यतः पूर्ण करना है।

प्रशिक्षण संबंधी जानकारियाँ –

निष्ठा सेकेण्डरी 20 ऑनलाइन प्रशिक्षण में कुल 13 मॉड्यूल है जिस पर प्रशिक्षण संपन्न होना है, मॉड्यूल के नाम निम्न है:

  1. Curriculum and Inclusive Education
  2. Integration of ICT in Teaching] Learning and Assessment
  3. Developing Personal-Social Qualities for Facilitating Holistic Development of Learners
  4. Art Integrated Learning
  5. Understanding Secondary Stage Leamers: A Guidance and Counselling Approach
  6. School Leadership Development for Secondary School Heads: Concepts and Applications
  7. School Based Assessment (including HPC concerns)
  8. Initiatives in School Education
  9. Gender Issues in Education
  10. Vocational Education
  11. 11 Health and Physical Education
  12. Toy-based pedagogy
  13. Pedagogy Courses (Any One of following)
  • Pedagogy of English b. Pedagogy of Hindi.
  • Pedagogy of Urdu d. Pedagogy of Sanskrit.
  • e. Pedagogy of Mathematics
  • I Pedagogy of Science
  • g Pedagogy of Social Sciences

निष्ठा सेकेण्डरी 2.0 ऑनलाइन प्रशिक्षण हेतु प्रतिभागियों के लिए निर्देश

निष्ठा 2.0 में प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए सबसे पहलेशिक्षकों को दीक्षा एप /पोर्टल में पंजीयन करना होगा। पंजीयन कैसे करें इसके बारे में स्टेप बाई स्टेप पूरी जानकारी इस प्रकार है –

Step 1– यदि आपके मोबाइल में दीक्षा एप पहले से इंस्टाल है तो उसे Uninstal  कर लें  .

Step 2 – अब गूगल प्ले स्टोर में जाकर दीक्षा एप डाउनलोड कर इंस्टॉल करें। ध्यान रखें यहां पर दीक्षा एप का वर्जन 4.0  या उससे ऊपर का हो। 

Step 3 – दीक्षा एप को ओपन करें और भाषा का चयन करें ,फिर शिख्सक सलेक्ट करें ,बोर्ड का चयन करें ,माध्यम और कक्षा का चुनाव करें , यदि अआप कक्षा 11 वीं और 12 वीं पढ़ाते है तो Other का चयन करें। 

Step 4 – अब दीक्षा एप के नीचे दाएं भाग में प्रोफाइल विकल्प पर क्लिक करें। इसके बाद लॉगिन बटन का चयन कर Register Here पर क्लिक करके पंजीयन करें। 

Step 5 – पंजीयन के लिए अपना जन्म तारीख ,मोबाइल नंबर भरें। उसके बाद आपको पासवर्ड बनाना है -ध्यान रखें पासवर्ड 8 अंकों का हो जिसमे एक Uppercase , एक Lowercase ,एक Number और एक Special Character होना अनिवार्य है। 

Step 6 – जब आपका पंजीयन दीक्षा पोर्टल में हो गया  हो तब दीक्षा एप को ओपन करके लॉगिन करें और प्रोफ़ाइल पर टैप करें। 

Step 7 – प्रोफाइल में अपना व्यक्तिगत विवरण सावधानी से भरें -यहाँ विवरण जमा करें को क्लिक करें साथ ही यहाँ पर Chhattisgarh को सलेक्ट करें। 

Step 8 – अब अगले स्टेप में अपने 11 अंकों वाला कर्मचारी आईडी दर्ज करें। 

Step 9 – राज्य संगठन के लिए अपना मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी प्रविष्ट करें। 

Step 10 – दीक्षा एडमिन के साथ डाटा शेयर करने के लिए अपनी सहमति प्रदान करें। इसके लिए दिए गए बॉक्स में चेक मार्क कर जमा करें विकल्प का चयन करें । इस प्रकार आपका पंजीयन दीक्षा पोर्टल में हो जायेगा। 

दीक्षा पोर्टल में दिए गए विवरण के आधार पर ही ऑनलाइन प्रशिक्षण के डाटा पैक हेतु आवेदन स्वीकार किया जायेगा ,इसलिए अपना विवरण सावधानी पूर्वक और सही सही भरें। 

दिनांक 1 अगस्त 2021 से प्रथम चरण के तीन माड्यूल हेतु कोर्स को ज्वाइन / भाग कैसे ले ?

  1. दीक्षा ऐप में लॉगिन इन करें, लॉगिन उपरांत अपना व्यक्तिगत विवरण अच्छी तरह से जांच लें।
  2. 2 दीक्षा ऐप में, ऊपर दाएं कोने पर स्थित सर्च बटन को क्लिक करें।
  3. CG_SEC_01 / CG_SEC_02 / CG_SEC_03 प्रविष्ठ कर सर्च करें, आपको छत्तीसगढ़ के लिए निर्धारित प्रथम तीन कोर्स प्रदर्शित होंगे । (यहां कृपया ध्यान रखें त्रुटिवश अन्य राज्य के कोर्स ज्वाइन ना करें, गत वर्ष यह देखा गया है कि शिक्षक गलती से चंडीगढ़ का कोर्स ज्वाइन कर लेते हैं जो सामान्यतः CH से प्रारंभ होता है।)
  • Module 1 CG_SEC_01_पाठ्यचर्या और समावेशी कक्षा do 31333307848750694412977
  • Module 2 CG_SEC_02_पठन पाठन और मूल्यांकन में सूचना प्रौद्योगिकी तकनीक की भूमिका do 31333342368099532813686
  • Module 3 CG_SEC_03_शिक्षार्थियों के समग्र विकास के लिए व्यक्तिगत सामाजिक गुणों का विकास do 31333308111585280013039
  1. प्रत्येक कोर्स में अलग-अलग क्लिक कर कोर्स में नामांकन कीजिए में क्लिक करें। कोर्स में नामांकन दिनांक 1 अगस्त 2021 से दिनांक 25 अगस्त 2021 तक उपलब्ध रहेगा एवं आपको तीनों कोर्स को 31 अगस्त 2021 तक अनिवार्य रूप से पूर्ण करना है। कृपया तीनों कोर्स को एक साथ पंजीयन कर ले एवं अपनी सुविधानुसार पूर्ण करें ।
  2. मोबाइल में दीक्षा एप पर यदि किसी मॉडधूल के प्रशिक्षण में समस्या आती है तो लैपटॉप / डेस्कटॉप या मोबाइल में ब्राउजर की सहायता से दीक्षा के वेबसाइट http://diksha.gov.in में लॉगिन करके भी अपना प्रशिक्षण पूरा किया जा सकता है। ब्राउज़र की सहायता से दीक्षा के वेबसाइट http://diksha.gov.in में लॉगिन करके अपने शिक्षक साथी के मोबाइल में भी अपना प्रशिक्षण पूरा कर सकते हैं।
  3. प्रत्येक कोर्स पूर्ण होने पर आपको प्रमाण पत्र ऑनलाइन दीक्षा पोर्टल के माध्यम से जारी होगा इसे डाउनलोड कर सुरक्षित रख लें।
  4. मोबाइल पर किन्ही कारणों से प्रमाण पत्र डाउनलोड ना हो या अपूर्ण प्रमाण पत्र डाउनलोड होने पर ब्राउजर पर जाकर दीक्षा के वेबसाइट http://diksha.gov.in के माध्यम से भी अपना प्रमाण पत्र डाउनलोड कर सकते हैं।
  5. दीक्षा पोर्टल पर CG_SEC_ keyword की सहायता से सर्च करने पर भी वर्तमान में जारी तीनों माड्यूल में नामांकन कर प्रशिक्षण प्राप्त किया जा सकता है।
  6. यदि आपको कोई तकनीकी समस्या हो तो cgschool.in के सक्रिय सदस्यों से सहयोग प्राप्त करें।
  7. सहयोग हेतु अगले स्तर पर जिला स्तर पर समग्र शिक्षा के प्रोग्रामर से सहायता प्राप्त करें।
  8. समग्र शिक्षा के प्रोग्रामर आवश्यकता होने पर राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद अथवा समग्र शिक्षा के राज्य परियोजना कार्यालय से सहायता प्राप्त करेंगे।
  9. निष्ठा ऑनलाइन प्रशिक्षण 2.0 के अंतर्गत 13 माड्यूल सफलतापूर्वक पूर्ण करने वाले समस्त प्राचार्यों एवं शिक्षकों (व्याख्याता, व्याख्याता व्यवसायिक, व्याख्याता एल. बी.) को डाटा पैक हेतु प्रतिपूर्ति (Reimbursement) के आधार पर 900 रुपये (नौ सौ रुपये प्रति शिक्षक संपूर्ण कार्यक्रम हेतु देय होगा।
  10. सभी शिक्षकों (व्याख्याता, व्याख्याता व्यवसायिक व्याख्याता एल. बी.) के साथ स्वयं के पंजीयन एवं प्रशिक्षण पूर्ण कराने की जिम्मेदारी संबंधित प्राचार्यों की होगी। यदि कोई शिक्षक निष्ठा ऑनलाइन प्रशिक्षण 2.0 में पंजीयन ना करें तो इसकी जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से जिला परियोजना समन्वयक को देवें जिला परियोजना समन्वयक जानकारी को संकलित कर संधारित करेंगे एवं आवश्यकता होने पर छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल, राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद समग्र शिक्षा, लोक शिक्षण संचालनालय को उपलब्ध कराएंगे जिससे उचित कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके।

Leave a Reply