शिक्षक पदोन्नति आदेश प्रपत्र एवं दस्तावेज

शिक्षक पदोन्नति आदेश प्रपत्र एवं दस्तावेज

पदोन्नति पर वेतन निर्धारण

वेतन निर्धारण के कारण

वेतन निर्धारण निम्न परिस्थितियों के कारण निर्मित होता है।

  1. शासकीय कर्मचारी के मौलिक या स्थापान्न रूप से प्रथम नियुक्ति होने पर
  2. जब शासकीय कर्मचारी स्थानान्तरण द्वारा एक पद से दूसरे पद पर मौलिक स्थानापन्न रूप से नियुक्त होता है।
  3. जब प्रचलित वेतनमान संशोधित कर नया वेतनमान लागू होता हो।
  4. किसी शासकीय सेवक के पदोन्नत होने के कारण पदोन्नत वेतनमान लागू करें के लिए।
  5. सेवा में व्यवधान फलस्वरूप पुनर्नियुक्ति पर
  6. जब मूल वेतन, वेतन वृद्धि या अन्य किसी कारण से स्थानापन्न वेतन से अधिक हो जाने और वेतन निर्धारण शासकीय कर्मचारी के लिए लाभप्रद हो।
  7. जब कोई शासकीय सेवक दण्ड स्वरूप कनिष्ठ पर पदावनत हो।

पदोन्नति पर वेतन निर्धारण का मूल नियम:-

  • मूल नियम 22-डी-कोई शासकीय सेवक जब पदोन्नत होता है। तब उसका वेतन मूल नियम 22-डी के अनुसार निर्धारित किया जाता है।
  • इस नियम के अनुसार, निचले पद के वेतनमान में एक वेतन वृद्धि जोड़कर जो प्रकम आए, उच्च पद के वेतनमान में उससे आगे की स्टेज पर वेतन निर्धारित होगा।
  • यदि कर्मचारी अपने निचले पद के अधिकतम पर है अथवा गतिरोध भत्ते के सहित वेतन आहरित कर रहा है तब भी अंतिम वेतन वृद्धि बराबर वेतन नोशनली (Notionally) बढ़ाया जायेगा।
  • यह नियम स्थाई, स्थानापन्न अथवा अस्थाई सभी प्रकार के शासकीय सेवकों पर लागू होता है।

पदोन्नति पश्चात वेतन निर्धारण :-

वेतन पुनरीक्षण नियम-2017 के तहत 01 जनवरी, 2016 को या उसके पश्चात् पदोन्नति पर वेतन निर्धारण पुनरीक्षित वेतन संरचना में एक लेवल से दूसरे लेवल में पदोन्नति के मामले में वेतन निर्धारण हेतु जिस लेवल से शासकीय सेवक पदोन्नत होता है, उस लेवल में एक वेतनवृद्धि दी जायेगी और उसे इस पद पर जिसमें पदोन्नति दी गई है, के लेवल में इस प्रकार से प्राप्त राशि के समतुल्य कोटिका में रखा जायेगा और यदि ऐसी कोई कोष्टिका उस लेवल में जिसमें पदोन्नति दी गई है, की बीच उपलब्ध नहीं है तो उस लेवल में अगली उच्चतर कोष्टिका में रखा जायेगा।

पदोन्नति संबंधी विविध जानकारी।
पदोन्नति संबंधी विविध जानकारी।

वेतनमान निर्धारण का स्पष्टीकरण:- वर्तमान में शिक्षक संवर्ग का पदोन्नति प्रक्रियाधीन है जिसमें वेतनमान के निर्धारण को नीचे बताया गया है। जिसमें-

  • सहायक शिक्षक (वेतन लेवल-6) की पदोन्नति शिक्षक व प्रधान पाठक (प्राथमिक) के पद वेतन लेवल-8 पर होना है।
  • शिक्षक (वेतन लेवल-8) की पदोन्नति व्याख्याता व प्रधान पाठक (मिडिल) के पद वेतन लेवल-9 पर होना है।
  • वेतन चार्ट:-

इस वेतन चार्ट में वेतनमान संबंधी 4 कॉलम हैं प्रत्येक कॉलम को समझते हैं जिसके आधार पर वेतन निर्धारण हुआ है।

1️⃣मौजुदा मूलवेतन:- इस कॉलम में वर्तमान में प्राप्त मूलवेतन को दर्शाया गया है। जिसके आधार पर अगले लेवल के मूलवेतन का निर्धारण किया गया है। चूँकि किसी पद में 6 महिने या 180 दिन से अधिक सेवा अवधि पूरी हो जाती है तो वेतनवृद्धि की पात्रता होती है। इस आधार पर 1 जुलाई 2018 को संविलयन होने के पश्चात हर साल जुलाई माह में इंक्रीमेंट देय होता है। अत: मौजुदा पद के मूलवेतन में 6 माह से अधिक की अवधि हो चुकी है तो पदोन्नति पश्चात इंक्रीमेंट के साथ अगले लेवल के मूलवेतन का निर्धारण होगा।

2️⃣पदोन्नत पश्चात मूलवेतन:- वर्ग-3, सहायक शिक्षक(एल.बी.) संवर्ग के शिक्षकों का पदोन्नत पश्चात मूलवेतन का निर्धारण लेवल-6 के मौजुदा मूलवेतन में एक इंक्रीमेंट के साथ अगले मूल के अनुसार लेवल-8 के मूल का निर्धारण होगा।

जैसे:-

  • 2005 नियुक्ति वाले शिक्षकों का मूल वेतन 10वें इंक्रीमेंट के साथ 33100 है उसके 1 इंक्रीमेंट देय पर मूल 34100 हो जायेगा। जो लेवल-8 में 34100 के बराबर या उससे उच्चतर राशि 35400 पर मूलवेतन निर्धारित होगा ।
  • अतः 2005 नियुक्ति वाले शिक्षकों का मूल वेतन प्रधान पाठक में पदोन्नति पश्चात 35400 होगा।
  • साथ ही आप चार्ट में देख सकते हैं कि 2003 से लेकर 2018 तक नियुक्त सभी शिक्षकों का मूल 35400 से कम है अत: इन सभी वर्षों में नियुक्त शिक्षकों का लेवल-8 में मूल 35400 पर निर्धारित होगा।
  • उसके बाद 2001-2002 वालों का मौजुदा मूल वेतन 11वें इंक्रीमेंट के साथ 35100 है जिसका 1 इंक्रीमेंट पश्चात मूल 36200 होगा जो लेवल-8 में 36500 के मूल पर वेतन निर्धारित होगा।
  • उसी प्रकार 1998-1999-2000 वालों का मूल वेतन 12वें इंक्रीमेंट के साथ 36200 है जिसका 1 इंक्रीमेंट पश्चात मूल 37300 होगा जो अगले लेवल-8 में 37500 के मूल पर नये वेतन निर्धारित होगा।

3️⃣पदोन्नति पश्चात कुल वेतन:- अब आपको पदोन्नत पश्चात लेवल-8 का मूलवेतन पता है तो इसके आधार पर आप अपना वेतन गणना कर सकते हैं

4️⃣पदोन्नति पश्चात प्राप्त वेतन:- समस्त कटौतियों पश्चात प्राप्त वेतन की गणना कर ऊपर के वेतन चार्ट में दिया गया है साथ ही नीचे दिये गये चार्ट से महंगाई भत्ता गृह भत्ता, एवं कटौती के साथ पूर्ण वेतन विवरण देख सकते हैं।

संविलियन वेतनमान महँगाई भत्ता 17% के आधार पर[PDF DOWNLOAD]
वेतन पुनरीक्षण नियम-2017[PDF DOWNLOAD]

ई/टी संवर्ग के सहायक शिक्षक (एल.बी.) से शिक्षक (एल.बी.)/प्रधान पाठक प्राथमिक शाला एवं शिक्षक (एल.बी.) से प्रधान पाठक पूर्व माध्यमिक शाला के पद पर पदोन्नति की पात्रता रखने वाले ई एवं टी संवर्ग के सहायक शिक्षक (एल.बी.) एवं शिक्षक (एल.बी.) की पदोन्नति की कार्यवाही आगामी समय में संभावित है।

अतः ई एवं टी संवर्ग के सहायक शिक्षक (एल.बी.) एवं शिक्षक (एल.बी.) जिनका संविलियन 01/07/2018 को हुआ है, उनका विगत 03 वर्षों का (2018-19,2019-20 एवं 2020-21) गोपनीय प्रतिवेदन एवं चल-अचल संपत्ति का वर्षवार विवरण व्यक्तिगत फोल्डर संधारित करना है जिसमें संबंधित डीडीओ एवं जिला शिक्षा अधिकारी के प्रतिहस्ताक्षर वाली मूल प्रति बिना किसी काट-छाँट के विवरण संधारित कर प्रत्येक शिक्षक (ई एवं टी संवर्ग) का पृथक-पृथक फाईल में संलग्न प्रपत्र के अनुसार तैयार करने हैं।

पदोन्नति हेतु लगने वाले दस्तावेज:-

  • गोपनीय प्रतिवेदन:- एल.बी. संवर्ग के शिक्षकों के लिये विगत 3 साल व नियमित शिक्षकों के लिये विगत 5 साल गोपनीय प्रतिवेदन जमा करना है।
  • कार्य निष्पादन प्रपत्र:- एल.बी. संवर्ग के शिक्षकों के लिये विगत 3 साल व नियमित शिक्षकों के लिये विगत 5 साल का कार्य निष्पादन प्रपत्र जमा करना है।
  • चल अचल संपत्ति:- एल.बी. संवर्ग के शिक्षकों के लिये विगत 3 साल व नियमित शिक्षकों के लिये विगत 5 साल चल अचल संपत्त जव्मावरण जमा करना है।
  • शैक्षिक योग्यता की छायाप्रति:- कर्मचारी ने अपने सेवाकाल में स्नातक (बीए, बीएससी आदि) या स्नातकोत्तर (एम, एमएससी आदि) की परीक्षा उत्तीर्ण की हो उनकी अंकसूची की छायाप्रति |
  • व्यावसायिक योग्यता की छायाप्रति :- व्यावसायिक योग्यता (डी.एड.,डी.पी.ई.,बी.टी.आई.,बी.एड) की परीक्षा उत्तीर्ण की हो उनकी अंकसूची की छायाप्रति
  • सर्विस बुक की छायाप्रति:- प्राधिकृत अधिकारी द्वारा हस्ताक्षरित सेवापुस्तिका में इन्द्राज किये गये शैक्षिक योग्यताव्यावसायिक योग्यता के पृष्ठ की छायाप्रति ।
  • परीक्षा अनुमति की छायाप्रति:-उपरोक्त योग्यता स्नातक (बीए, बीएससी आदि) या स्नातकोत्तर (एम, एमएससी आदि) हेतु परीक्षा में बैठने की अनुमति हेतु प्राप्त प्राधिकृत अधिकारी का अनुमति पत्रक ।
  • डबल स्नातक दर्ज सर्विस बुक की छायाप्रति:- वे शिक्षक जिन्होंने 2 विषय में स्नातक किया है उनकी इस योग्यता को सेवापुस्तिका के जिस पृष्ट में इन्द्राज किया गया है उसकी छायाप्रति जिसमें प्राधिकृत अधिकारी के हस्ताक्षर हो |
  • स्थानांतरण आदेश की छायाप्रति:-यदि किसी कर्मचारी का स्थानांतरण प्रशासनिक हुआ हो तो स्थानांतरण आदेश की छायाप्रति ।

पदोन्नति हेतु प्रपत्र – PDF DOWNLOAD

प्रपत्र विवरणPdf Downloadनमूनार्थ प्रपत्र
गोपनीय प्रतिवेदन 2022 NewClick HereClick Here
गोपनीय चरित्रावली 2022 New OrderClick HereClick Here
कार्य निष्पादन प्रपत्र Click HereClick Here
चल अचल संपत्ति Click HereClick Here
दावा आपत्ति प्रपत्रClick HereClick Here
सर्विस बुक की छायाप्रति Click HereClick Here
स्नातक परीक्षा अनुमति की छायाप्रतिClick HereClick Here
स्नातकोत्तर परीक्षा अनुमति की छायाप्रति Click Here Click Here
दो विषय में स्नातक के लिये सहमति प्रपत्र Click HereClick Here
पदोन्नति हेतु प्रपत्र
पदोन्नति हेतु प्रपत्र
पदोन्नति हेतु प्रपत्र
पदोन्नति हेतु प्रपत्र - PDF DOWNLOAD
पदोन्नति हेतु प्रपत्र – PDF DOWNLOAD
शिक्षक पदोन्नति आदेश प्रपत्र एवं दस्तावेज

Also Read –पदोन्नति संबंधी जानकारी। [Promotion information -2022]

FOLLOW – Edudepart.com

शिक्षा जगत से जुड़े हुए सभी लेटेस्ट जानकारी के लिए Edudepart.com पर विजिट करें और हमारे सोशल मिडिया @ Telegram @ WhatsAppFacebook @ Twitter @ Youtube को जॉइन करें। शिक्षा विभाग द्वारा जारी किये आदेशों व निर्देशों का अपडेट के लिए हमें सब्सक्राइब करें।