हमसे जुड़ें:

Telegram @ WhatsApp @ Facebook @ Twitter @ Youtube

पढ़ई तुहंर दुआर 2.0 में शालाओं की मानिटरिंग के क्या है निर्देश ?(School Monitoring Format Sep-2021)

1,394

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

पढ़ई तुहंर दुआर 2.0 के अंतर्गत शालाओं की अकादमिक मानिटरिंग हेतु निर्देश जारी (School Monitoring Format Sep-2021)

पढ़ई तुहंर दुआर 2.0 के अंतर्गत अकादमिक मॉनिटरिंग व्यवस्था में कसावट लाने हेतु बकायदा सितम्बर 2021 हेतु एजेण्डा तय कर निर्देश जारी किये गये हैं । राज्य परियोजना कार्यालय समग्र शिक्षा छत्तीसगढ़ रायपुर द्वारा अकादमिक मॉनिटरिंग व्यवस्था में कसावट लाने हेतु नवीन व्यवस्था लागू किया है एवं विस्तृत दिशा निर्देश जारी कर दिया है । अब प्रत्येक माह शालाओं की मानिटरिंग अलग अलग एजेण्डा पर होगी जिसका निर्धारण राज्य की ओर से होगा । साथ ही शालाओं में की गयी अकादमिक मानिटरिंग की रिपोर्ट नीचे दी गए लिंक में भी भरें ताकि इस माह का आपका लक्ष्य पूरा हो सके

http://www.ssachhattisgarh.gov.in/acd

पढ़ई तुहंर दुआर

पढ़ई तुहंर दुआर 2.0 में शालाओं की मानिटरिंग के लिये माह सितम्बर 2021 का क्या है एजेण्डा ?

क्रमांक निरीक्षण के बिंदुअभिमत – हाँ/नहीं
1 स्कूल खुलने एवं पढई तुंहर दुआर 2.0 के क्रियान्वयन हेतु शाला प्रबन्धन समिति की बैठक का आयोजन एवं तय एजेण्डा पर कार्यवाही हाँ/नहीं
2 क्या बच्चों के पढने के लिए प्रतिदिन गतिविधियाँ आयोजित की जा रही है ? हाँ/नहीं
3क्या बच्चों द्वारा हस्तपुस्तिका तैयार की जा रही है ? हाँ/नहीं
4क्या विद्यार्थी विज्ञान के प्रयोग कर रहे हैं ? हाँ/नहीं
5क्या गणित की समझ विकसित करने आप विभिन्न गतिविधियों का आयोजन कर रहे हैं ? हाँ/नहीं
6क्या आपने विद्यार्थियों को छोटे छोटे प्रोजेक्ट दिए हैं ? हाँ/नहीं
7क्या उपलब्धि में सुधार हेतु आपके क्षेत्र में पी एल सी PLC द्वारा सक्रियता से कार्य किए जा रहे हैं ? हाँ/नहीं
8क्या शाला में विद्यार्थी विकास सूचकांक के अनुसार सभी विद्यार्थियों के स्तर की सही सही प्रविष्टि की जा रही है ? हाँ/नहीं
पढ़ई तुहंर दुआर

👉शालाओं की मानिटरिंग हेतु विस्तृत दिशा निर्देश pdf में Download करें 👈

माह सितम्बर 2021 का निरीक्षण प्रपत्र

पढ़ई तुहंर दुआर
  • इसके अंतर्गत राज्य से लेकर संकुल स्तर तक निरीक्षण हेतु बकायदा जिम्मेदारी तय किया गया है ।
  • निरीक्षण के बिंदुओं को निर्धारित करने के लिए भी जिम्मेदारी तय की गई है एवं निरीक्षण के क्या-क्या बिंदु होंगे इसको भी प्रतिमाह जारी किया जाएगा ।
  • अकादमिक मॉनिटरिंग व्यवस्था में कसावट लाने के लिए बकायदा राज्य स्तर के एक अधिकारी को जिला आवंटित किया गया है जिला स्तर के अधिकारी को विकासखंड , विकास खंड के अधिकारी को संकुल स्तर पर एवं संकुल स्तर के अधिकारियों को शाला स्तर पर मानिटरिंग करने की जिम्मेदारी दी गयी है ।
  • प्रत्येक स्तर पर अधिकारी प्रतिमाह कितने प्रतिशत स्कूलों का निरीक्षण करेंगे लक्ष्यों का भी निर्धारण किया गया है ।

School Monitoring Format Sep-2021

Follow Edudepart

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.