4

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

मिडलाईन आकलन 2021 विवरण ।

सत्र 2021-22 में कक्षा 1 से 8 तक विद्यार्थियों का दिसम्बर माह में प्रोजेक्ट कार्य के साथ साथ मिडलाइन आकलन किया जाना है। मिडलाइन आकलन हेतु संक्षिप्त दिशा-निर्देश एवं समय-सारणी जारी किया गया है। साथ ही प्रश्न की सीडी तैयार कर ली गई है। समस्त जिला शिक्षा अधिकारीयों को दिनांक 29.11.2021 से 04.12.2021 के मध्य प्रश्न पत्रों की सीडी प्राप्त करने का निर्देश दिया गया है।

मिडलाईन आकलन-2021 दिशा निर्देशClick Here

मिडलाईन एंट्री हेतु प्राप्तांको का विवरण प्रपत्र:-

क्रमाँककक्षा स्तरडाउनलोड प्रपत्र
01. कक्षा 1ली व 2रीClick Here
02.कक्षा 3री से 5वींClick Here
03. कक्षा 6वीं से 8वींClick Here

मिडलाईन आकलन Online Entry कैसे करें ?

Cgschool.In में मिडलाईन आकलन के लिये Online Entry का Option दे दिया गया है। जिसमें आकलन के लिये खण्ड अ में 30 अंक व प्रोजेक्ट में 10 अंक कुल 40 अंक भरने होंगे साथ ही खण्ड ब व खण्ड स के क्रमशः 12 व 8 अंक होंगे। प्रगति पत्र में खण्ड-अ के अंक का ग्रेड प्रविष्ट होगा और खण्ड-अ, ब स के आधार पर बच्चे के स्तर का निर्धारण होगा।

क्या है Online Entry की पूरी प्रकिया :-

  • Cgschool.In पोर्टल में User ID व Password से Login करें।
  • Login पश्चात left Corner के 3 लाईन को Touch करें।
  • शिक्षक के कार्य सेक्शन में जायें।
  • फिर विद्यार्थी सेक्शन में जायें।
  • वहां ऊपर दिये गये Screen shot के अनुसार मिडलाईन आकलन सेक्शन में जायें।
  • फिर खण्ड-अ, ब, स और प्रोजेक्ट वर्क में अंक प्रविष्ट करें।

मिडलाइन आकलन 2021 दिशा-निर्देश :-

  • मिडलाइन आकलन दिसम्बर माह में आयोजित किया जा रहा है। इसमें 30 अंक प्रश्न पत्र एवं 10 अंक प्रायोजना कार्य के होंगे इस तरह कुल 40 अंक होंगे।
  • प्रायोजना कार्य को मिडलाइन आकलन के ठीक पहले दिसंबर के द्वितीय अथवा तृतीय सप्ताह में किया जायेगा।
  • कक्षावार विषयवार प्रायोजना कार्य में कुल 3 प्रश्न होंगे, जिसमें से कोई 2 पर कार्य करना अनिवार्य होगा। प्रायोजना कार्य में प्रत्येक प्रश्न पर 5-5 अंक निर्धारित है।
  • प्रायोजना कार्य लर्निंग आउटकम्स पर आधारित है
  • प्रायोजना कार्य कक्षावार विषयवार राज्य स्तर से भेजा जा रहा है। जिसे कक्षा या कक्षा के बाहर किया जा सकता है।
  • बच्चों को प्रायोजना कार्य पूरा करने के लिए एक सप्ताह का समय दिया जाए।
  • प्रायोजना कार्य समूह में जोड़ों में या व्यक्तिगत रूप से किया जा सकता है
  • शिक्षक, कक्षा या विद्यालय के बाहर के प्रोजेक्ट कार्य अपने मार्गदर्शन में ही कराएं सुरक्षा के उचित उपाय सुनिश्चित करें।
  • शिक्षक, बच्चों द्वारा किए गए सभी प्रायोजना कार्यों के दस्तावेज सुरक्षित रखें।
  • प्रायोजना कार्य का मूल्यांकन शिक्षक मिडलाइन आकलन के पूर्व सम्पादित कर उसका रिकार्ड अपनी डायरी में रखें और मिडलाइन आकलन की उत्तर पुस्तिका के समय 10 अंकों के प्रायोजना के प्राप्तांकों को मिडलाइन आकलन के 30 अंकों के प्राप्तांकों के साथ जोड़ कर पोर्टल में एंट्री करें।

मिडलाईन आकलन के लिये प्रश्न पत्र का प्रारुप :-

  • प्रत्येक कक्षा के प्रत्येक विषय में 01 प्रश्न पत्र बनाया गया है, जिसमें 03 खण्ड होंगे।
    1. खण्ड ‘अ’ में 40 अंक,
    2. खण्ड ‘ब’ में 12 अंक,
    3. खण्ड ‘स’ में 08 अंक निर्धारित हैं।
  • प्रत्येक विषय के प्रश्न पत्र में कुल प्रश्नों की संख्या 17 है। खण्ड ‘अ’ के प्रश्न पाठ्यक्रम के 60 प्रतिशत भाग से है।
  • ग्रेड का निर्धारण एवं प्रगति पत्र में प्रविष्टि, खण्ड ‘अ’ के प्राप्तांकों पर किया जायेगा। शेष खण्ड ‘ब’ एवं खण्ड ‘स’ का उपयोग विद्यार्थियों के स्तर निर्धारण एवं उपचारात्मक शिक्षण के लिए किया जावेगा।

मिडलाइन प्रश्न पत्र का प्रारूप :-

  1. खण्ड ‘अ’ में – जिस कक्षा की परीक्षा लेनी है उसी के प्रश्न होंगे।
  2. खण्ड ‘ब’ में – इस खण्ड में निर्धारित कक्षा से 2 स्तर नीचे की कक्षा के प्रश्न होंगे।
  3. खण्ड ‘स’ मे – खण्ड ‘ब’ से 2 स्तर नीचे की कक्षा के प्रश्न होंगे।
खण्ड ‘अ’खण्ड ‘ब’खण्ड ‘स’कुल(अ+ब+स)
अंक3012850
प्रश्नों की संख्या104317
  • उपरोक्त नियमों के आधार पर कक्षा 5 से 8 तक के प्रश्न पत्रों का निर्माण किया गया है ।
  • कक्षा 4 एवं उससे नीचे की कक्षाओं के लिए खण्ड ब और खण्ड स में 1-1 स्तर नीचे के प्रश्नों का समावेश किया गया है।

मिडलाईन आकलन पश्चात विश्लेषण :-

  • मिडलाइन आकलन 40 अंक का होगा जिसमें 30 अंक प्रश्न पत्र पर एवं 10 अंक प्रोजेक्ट / प्रदत्त कार्य में होंगे।
  • प्रश्न पत्र लर्निंग आउटकम्स आधारित हैं। प्रश्नों का निर्माण ब्लू प्रिंट के आधार पर किया गया है जिसे एससीईआरटी छत्तीसगढ़ द्वारा आकलन के दिशा-निर्देश के अनुरूप तैयार किया गया है।
  • मिडलाइन आकलन के कुल 40 अंकों की खण्डवार प्रविष्टी cgschool.in पोर्टल पर की जावेगी।
  • इन अंकों से विद्यार्थियों के स्तर का निर्धारण ऑनलाइन पोर्टल पर स्वमेव हो जावेगा। जिसके आधार पर विद्यार्थियों के उपचारात्मक शिक्षण (Remedial Teaching) की कार्ययोजना परिषद् द्वारा शीघ्र उपलब्ध कराई जावेगी।

उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन :-

  • उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन खण्डवार किया जाएगा अर्थात खंड ‘अ’, ‘ब’, ‘स’ के प्राप्तांक पृथक-पृथक लिखे जाएँगे।
  • प्राप्तांकों की खण्डवार पृथक-पृथक ऑनलाइन एंट्री दिनांक 15 जनवरी 2022 तक करनी है।
  • खण्ड ‘अ’ के प्राप्तांको के आधार पर विद्यार्थी के ग्रेड का निर्धारण किया जायेगा एवं इसी ग्रेड की प्रविष्टि विद्यार्थी के प्रगति पत्रक में की जावेगी।
  • खण्ड ‘ब’ एवं ‘स’ खण्ड के प्राप्तांकों की प्रविष्टि प्रगति पत्रक में नहीं की जानी है।
  • प्रगति पत्रक का प्रारूप पहले ही जारी किया जा चुका है जो cgschool.in में अपने आप जनरेट होगी।
  • आकलन उपरांत विद्यार्थियों के उत्तर पुस्तिकाओं का संधारण विद्यालय स्तर पर किया जाए जिससे समय-समय पर CAC, BEO, DEO या राज्य स्तरीय अधिकारियों द्वारा अवलोकन किया जा सके ।
  • प्रत्येक विद्यार्थी का सही-सही आकलन करना आवश्यक हैं।
  • शिक्षक द्वारा गलत आकलन किये जाने पर कार्यवाही की जावेगी।

इन्हें भी पढ़ें : –

FOLLOW – Edudepart.com

शिक्षा जगत से जुड़े हुए सभी लेटेस्ट जानकारी के लिए Edudepart.com पर विजिट करें और हमारे सोशल मिडिया @ Telegram @ WhatsAppFacebook @ Twitter @ Youtube को जॉइन करें। शिक्षा विभाग द्वारा जारी किये आदेशों व निर्देशों का अपडेट के लिए हमें सब्सक्राइब करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.